हिसार

आदमपुर : ऐ लो जी! ठेकेदार और अधिकारियों के आगे मंत्री जी की भी एक नहीं चली

आदमपुर,
आदमपुर विधानसभा क्षेत्र के गांवों में सड़क निर्माण में भ्रष्टाचार, मनमानी व अनियमिताओं पर रोक नहीं लग पा रही है। सड़कें ठीक बनाने के लिए बिजली मंत्री रणजीत सिंह भी अधिकारियों को निर्देश दे चुके हैं लेकिन अधिकारियों के कानों पर जूं नहीं रेंग रही है।

आदमपुर हलके के खारिया, डोभी वाया तेलनवाली से चौधरीवाली रोड जब पिछले दिनों बनाया जा रहा था और इसमें भारी अनियमितताएं देखी देखी गई। ग्रामीणों ने बिजली मंत्री रणजीत सिंह व अधिकारियों तक बात पहुंचाई तो अधिकारियों ने मामले पर लीपापोती के लिए एक बार काम रूकवा दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार सीधे तौर पर मनमानी कर रहा है और अधिकारियों का उस पर कोई अंकुश नहीं है।

ग्रामीणों का आरोप है कि यह रोड नियम व शर्तों के अनुसार नहीं बनाया जा रहा, जिसके चलते सड़कों को हाथ से ही कुरेदा जा सकता है। पिछले दिनों ग्रामीणों ने मौके पर जाकर सड़क का निरीक्षण किया और अधिकारियों को ठेकेदार की पूरी कारस्तानी से अवगत करवाया। इस पर अधिकारियों ने एक बार काम रुकवाते हुए ग्रामीणों को रोड निर्माण सही करवाने का आश्वासन दिया लेकिन शनिवार को अधिकारियों के मौके पर पहुंचने के बावजूद स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ।

ग्राामीणों का आरोप है कि तालकोल की सड़क को बिना तारकोल डाले बनाया जा रहा है सड़क को कुरेद कर इसका उदाहरण देखा जा सकता है। डोभी गांव के सरपंच आजाद सिंह हिन्दुस्तानी एवं अन्य ने बताया कि सड़क निर्माण में बिल्कुल ही निम्न स्तर की सामग्री इस्तेमाल हो रही है। ठेकेदार को इस बारे में कहा भी गया लेकिन उसने कोई सुधार नहीं किया।

आजाद सिंह हिन्दुस्तानी ने बताया कि शनिवार को विभाग के एसडीओ मौके पर भी पहुंचे और सड़क का निरीक्षण करके माना कि सड़क निर्माण में अनियमितताएं बरती गई है लेकिन उनके इतना कहने के बावजूद कार्रवाई ज्यादा आगे नहीं बढ़ी। सड़क निर्माण ज्यों का त्यों जारी है और अधिकारी ग्रामीणों की बात सुनने को तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि आज फिर उन्होंने मंत्री रणजीत सिंह को फोन किया था लेकिन वे व्यस्त बताए गए, अब वे फिर से समय लेकर मंत्री से बात करेंगे और उन्हें इस सड़क के निर्माण में हो रही अनियमितताओं, भ्रष्टाचार व मनमानी से अवगत करवाएंगे।

ग्रामीणों के अनुसार गांव के आबादी वाले क्षेत्र में इंटरलॉकिंग सड़क बनानी शुरू की गई थी, वो भी बिना लेवल व बिना रोलिंग किए बनाई जा रही है, जो उबड़-खाबड़ है और मामूली बारिश आते ही जगह-जगह से बैठ जाएगा। इस अवसर पर डोभी गांव के सैंकड़ों ग्रामीण उपस्थित रहे।

Related posts

नित्य प्रति करनी चाहिए गौेमाता की सेवा : स्वामी राजेन्द्रानंंद

Jeewan Aadhar Editor Desk

देवी भवन मंदिर में बांटे खाने के हजारों पैकेट

कराटे के विजेता खिलाडिय़ों को किया सम्मानित