हिसार

हिसार लोकसभा : बूथ के टोटल वोट से ज्यादा वोट EVM से निकले, भाजपा को एक विधानसभा से करना पड़ा हार का सामना

हिसार,

हिसार लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाली बवानीखेड़ा विधानसभा के 74 नंबर बूथ की इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। इस बूथ पर तैनात प्रिसाइडिंग अफसर की गलती के कारण बूथ पर डाले गए वोटों को रद्द करना पड़ा, जिससे इस बूथ का रिजल्ट जारी नहीं हो पाया। इसके चलते भाजपा को इस विधानसभा से हार का सामना करना पड़ा।

वोटिंग शुरू होने से पहले 25 मई को कराए गए मॉक पोल को डिलीट किए बिना ही प्रिसाइडिंग अफसर ने वोटिंग शुरू करवा दी। मॉक पोल वह प्रक्रिया है जिसमें वोटिंग शुरू होने से पहले EVM की जांच की जाती है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि मशीन सही तरीके से काम कर रही है। 4 जून को काउंटिंग के दिन जब EVM खोली गई, तो वहां वोटों की संख्या बूथ के कुल वोटों से अधिक पाई गई। जांच करने पर पता चला कि मॉक पोल को डिलीट नहीं किया गया था, जिससे वोटों की गिनती में गड़बड़ी हो गई। बवानीखेड़ा से भाजपा विधायक और मंत्री बिशम्बर वाल्मीकि ने मामले को लेकर हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखा है।

उनका कहना है कि उनकी पार्टी ने इस क्षेत्र में जीत हासिल की है, लेकिन अधिकारी EVM का रिजल्ट जारी नहीं कर रहे हैं। बवानीखेड़ा विधानसभा में कांग्रेस उम्मीदवार जयप्रकाश को 64,286 वोट मिले थे, जबकि भाजपा उम्मीदवार रणजीत चौटाला को 64,004 वोट मिले थे। इस तरह जयप्रकाश 282 वोटों से जीते थे। वाल्मीकि का कहना है कि बवानीखेड़ा में कांग्रेस की 282 वोट से जीत दिखाई गई है, जबकि हिसार लोकसभा में जीत का फासला 60 हजार से अधिक का है। एक EVM की गिनती से फर्क नहीं पड़ता, लेकिन यहां बात विधानसभा में जीत की है।

74 नंबर बूथ की स्थिति
बूथ नंबर 74 की EVM की गिनती होने पर भाजपा को 413 वोट मिलेंगे। मतदान के दिन भाजपा के बूथ एजेंटों के सामने यह EVM खोली गई थी, जिसमें भाजपा के 413 वोट थे। इस मशीन में कुल वोट 700 के करीब थे। इस हिसाब से भाजपा बवानीखेड़ा विधानसभा में 125 वोटों से जीत सकती है। जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी बवानीखेड़ा विधानसभा के बूथ वाइज रिजल्ट में बूथ नंबर 74 के नतीजों के आगे 0-0 लिखा है, जबकि इसके ऊपर बूथ नंबर 73 का रिजल्ट जारी किया गया है। इस बूथ पर भाजपा के रणजीत चौटाला को 437 और कांग्रेस के जयप्रकाश को 208 वोट मिले थे। वहीं, बूथ नंबर 75 पर भाजपा को 193 और कांग्रेस को 405 वोट मिले थे।

मंत्री का असंतोष
मंत्री बिशम्बर वाल्मीकि ने नतीजे जारी नहीं होने पर हिसार के सहायक निर्वाचन अधिकारी से फोन पर बात की। वाल्मीकि का कहना है कि EVM का रिजल्ट जारी क्यों नहीं हुआ, इस बारे में अधिकारी संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए। उन्होंने कहा कि वह अधिकारी की बातों से संतुष्ट नहीं हैं और जनमत का अपमान हुआ है।

Related posts

सुपर-100 योजना के तहत डाइट मात्रश्याम में हॉस्टल तथा कोचिंग कक्षाओं का शुभारंभ

नगर निगम के पशु पकड़ो अभियान में शहरवासी भी दे अपना सहयोग- श्योराण

पीडब्ल्यूडी के तीनों विभागों के फिल्ड कर्मचारी 9 को करेंगे जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन : गंगाराम मौन