हिसार

घर-घर कांग्रेस, हर घर कांग्रेस अभियान के तहत दड़ौली पहुंचने पर कांग्रेस नेता प्रदीप बैनिवाल का हुआ जोरदार स्वागत

आदमपुर,
आदमपुर से वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रदीप बैनीवाल ने आज हलके के गाँव दड़ौली में ‘घर-घर कांग्रेस, हर घर कांग्रेस’ अभियान का आगाज किया । उन्होंने घर-घर और दुकानों में जाकर लोगों से मुलाकात की। यहां पहुंचने पर लोगों ने प्रदीप बैनीवाल का गर्मजोशी से स्वागत किया। सभी में इस अभियान को लेकर जबरदस्त उत्साह देखने को मिला।

दड़ौली गांव के लोगों ने बैनीवाल को बताया कि गांव में डिस्पेंसरी न होने के कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश सरकार व स्थानीय नुमाइंदों की अनदेखी के चलते यहां पर आज तक डिस्पेंसरी तक नहीं खुल पाई। बुखार होने पर भी यहां के लोगों को आदमपुर जाना पड़ता हैं। कांग्रेस नेता ने आश्वासन दिया कि कांग्रेस की सरकार बनते ही चौ.भूपेंद्र सिंह हुड्डा सीएम बनेंगे। उनके सीएम बनते ही वे दड़ौली में डिस्पेंसरी खुलवाने का काम प्राथमिकता से करेंगे।

इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि वे बीजेपी-जेजेपी की नीतियों, फैमिली आईडी, प्रॉपर्टी आईडी जैसे गैर-जरूरी पोर्टलों, संवादहीनता व संवेदनहीनता से बुरी तरह त्रस्त है। लोग इसबार कांग्रेस को सत्ता में लाने का मन बना चुके हैं।

इस मौके पर प्रदीप बैनीवाल ने ग्रामीणों से रूबरू होते हुए कहा कि हरियाणा में इस सरकार को लगभग 10 साल पूरे हो चुके हैं। इतने ही समय तक भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व वाली कांग्रेस का कार्यकाल रहा था। अब समय आ गया है कि दोनों सरकारों के कार्यों व उपलब्धियां की तुलना की जाए। जनता जब तुलना करेगी तो वह पाएगी कि बीजेपी व बीजेपी-जेजेपी सरकार के दौरान 5 गुना कर्जा, 4 गुना महंगाई, 3 गुना बेरोजगारी व 2 गुना अपराध बढ़े हैं। बीजेपी-जेजेपी ने हमेशा जनसरोकार को नजरअंदाज करके सिर्फ सत्ता सुख भोगने की राजनीति की है। यहीं वजह है कि जो हरियाणा कांग्रेस कार्यकाल के दौरान प्रति व्यक्ति आय, प्रति व्यक्ति निवेश, कानून व्यवस्था और रोजगार देने के मामले में देश का नंबर वन राज्य था।
वो आज बेरोजगारी, अपराध, भ्रष्टाचार और नशे के मामले में नंबर वन बन गया है।

हरियाणा में बेरोजगारी की वजह से युवा दूसरे प्रदेशों व विदेश में पलायन कर रहे हैं। बड़ी तादाद में नौजवान नशे व अपराध के दलदल में फंसते जा रहे हैं। पूरे हरियाणा में सरेआम हत्या व डकैती आम बात हो गई है। गैंगस्टर और माफिया बेखौफ अपराधों को अंजाम दे रहे हैं।

खुद केंद्र सरकार की रिपोर्ट बताती है कि हरियाणा देश का सबसे असुरक्षित राज्य है। जबकि कांग्रेस कार्यकाल के दौरान बदमाश हरियाणा छोड़कर भाग गए थे। हरियाणा को देश के सबसे सुरक्षित राज्यों में गिना जाता था।

कांग्रेस कार्यकाल के दौरान ही प्रदेश में 6 मेडिकल कॉलेज, नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट, एम्स-2, 641 सीएचसी-पीएचसी बनीं। जबकि मौजूदा सरकार ना उनमें डॉक्टर मुहैया करवा पा रही है, ना मशीनें और ना ही दवाईयां। कांग्रेस कार्यकाल के दौरान ही प्रदेश में ₹43300 करोड़ की लागत से 5 पॉवर प्लांट (4 थर्मल,1 मंजूरशुदा परमाणु संयंत्र) स्थापित हुए। लेकिन मौजूदा सरकार ने एक नई यूनिट नहीं लगाई।

कांग्रेस ने पूरे प्रदेश में 12 सरकारी विश्वविद्यालय, 14 प्राइवेट विश्वविद्यालय, 9 डीम्ड विश्विद्यालय, राजीव गाँधी एजुकेशन सिटी, केन्द्रीय विश्वविद्यालय (महेंद्रगढ़), सैनिक स्कूल रेवाड़ी और 6 केंद्रीय विद्यालय बनाए और रक्षा विश्विद्यालय मंजूर करवाया। लेकिन बीजेपी-जेजेपी ने कोई नया शिक्षण संस्थान बनाने की बजाए 5000 सरकारी स्कूलों को बंद कर दिया।

बैनीवाल ने लोगों को कांग्रेस के संकल्प पत्र से अवगत करवाते हुए बताया कि कांग्रेस की सरकार आने पर सामाजिक पेंशन छ हज़ार की जाएगी , गैस का सिलेंडर पाँच सौ में दिया जाएगा , ओपीएस लागू की जाएगी , किसानों विरोधी पोर्टल बंद किए जाएँगे , नशा व अपराध समाप्त होंगे , दो लाख ख़ाली पद भरे जाएँगे , क़ानून के राज स्थापित होगा।

इस दौरान दड़ौली के ग्रामीणों ने आश्वासन दिया कि इसबार वे वोट की चोट से भाजपा सरकार को सबक सीखने का काम करेंगे।

Related posts

सदलपुर की बेटियों ने एक बार फिर रचा इतिहास,फुटबाल में गांव की खिलाडिय़ों ने मचाई धाक

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में डॉ. मंगल सेन कृषि विज्ञान संग्रहालय बन कर तैयार

आदमपुर : विजय लक्ष्मी कॉटन मिल से ग्वार चोरी, मामला दर्ज